एक मजदुर ने अपने मेहनत की कमाई शहीदों के नाम किया

0
386

मांझा- उमर मठिया गाँव के एक मजदुर ने अपने मेहनत से मजदूरी की कमाई को सेना राहतकोष में भेज कर मिसाल कायम किया है. पिछले 14 फ़रवरी को जम्मू-काश्मीर के पुलवामा में हुए फियातिन हमलावरों ने सेना के काफिलें पर हमला कर लगभग चालीस जवानों को शहीद कर दिया था. इस घटना को लेकर पुरे देश में आक्रोश का माहौल है. वही कैंडल मार्च, शोक सभा का आयोजन कर शहीदों को श्रधांजली दे रहे हैं.

लोग इसके लिए पडोसी देश को कड़ा सबक सिखाने की बात भी कर रहे हैं. इसको लेकर लोग सेना-राहत कोष में भी राशि डोनेट कर रहे हैं, तथा शहीद परिवारों के सहायता में लगे हुए हैं. इसी दौरान उमर मठिया गाँव के देहाड़ी मजदूरी करने वाले रमाकांत यादव ने शहीदों के लिए अपने मजदूरी से ज़मा राशि को डोनेट करने का निर्णय लिया लेकिन बैंक में खाता नही होने के कारण राशी भेजने में परेशानी हो रही थी. वे एक हज़ार की राशी को BDO को नगद दे कर सेना राहत कोष में भेजने का आग्रह किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here